शर्मनाकः चलती कार में नौ साल की मासूम से सामूहिक दुष्कर्म, बेतिया रेलवे स्टेशन से बच्ची को किया था अगवा

बेतिया रेलवे स्टेशन पर बड़ी बहन के साथ बैठी नौ वर्षीय बच्ची को रविवार की देर रात कार सवार दो युवकों ने अगवा कर गैंगरेप व अप्राकृतिक यौनाचार की घटना को अंजाम दिया है।

शर्मनाकः चलती कार में नौ साल की मासूम से सामूहिक दुष्कर्म, बेतिया रेलवे स्टेशन से बच्ची को किया था अगवा 1

अपहरण के करीब चार घंटे बाद आरोपियों ने बच्ची को जख्मी अवस्था में शहर के एक पेट्रोल पम्प के पास छोड़ दिया। गंभीर हालत में पुलिस ने उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया।
एसपी जयंतकांत ने बताया कि मामले में आरोपी छावनी निवासी सद्दाम हुसैन और फरमान खान को गिरफ्तार किया गया है। घटना में प्रयुक्त कार भी बरामद कर ली गयी है। इस मामले में बच्ची की बड़ी बहन की शिकायत पर गैंगरेप, अप्राकृतिक यौनाचार, अपहरण तथा पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। मामले में स्पीडी ट्रायल कराया जाएगा। बच्ची को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। मेडिकल कॉलेज की डॉक्टर उषा दास ने बताया कि बच्ची की स्थिति गंभीर थी। उसकी सर्जरी की गई है, फिलहाल वह खतरे से बाहर है।
मामला यह है कि मैनाटांड़ के एक गांव की रहने वाली बच्ची की बड़ी बहन बेतिया स्टेशन स्थित रैक प्वाइंट पर काम करती थी। वहां पर दोनों आरोपी बराबर आया-जाया करते थे। रविवार को वह अपनी बीमार छोटी बहन को ट्रेन से लेकर नरकटियागंज से बेतिया स्टेशन पर पहुंची। रात 10 बजे के करीब ट्रेन आयी। दोनों बहने वहीं पर एक चाय की दुकान पर बैठ गयीं। इसी दौरान फरमान खान व सद्दाम हुसैन वहां कार से पहुंचे। दोनों ने पहले बड़ी बहन को साथ में चलने के लिए कहा, लेकिन वह नहीं गयी। तब दोनों युवकों ने उसकी छोटी बहन को उठाकर जबरन गाड़ी में बैठा लिया।

शर्मनाकः चलती कार में नौ साल की मासूम से सामूहिक दुष्कर्म, बेतिया रेलवे स्टेशन से बच्ची को किया था अगवा 2

इसके बाद वे लोग छावनी की तरफ चले गए। बड़ी बहन मुफस्सिल थाने पहुंची और थानाध्यक्ष श्रीराम सिंह को घटना की जानकारी दी। थानाध्यक्ष ने बच्ची की खोजबीन शुरू की। लगभग चार घंटे बाद बच्ची जख्मी अवस्था में पेट्रोल पम्प के समीप मिली। थानाध्यक्ष ने उसे महिला सिपाही के साथ ले जाकर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। उधर, दोनों आरोपियों को भी पुलिस टीम ने उनके घर से दबोच लिया।

Leave a Comment