भीड़ को उकसाने और तोड़फोड़ करने के आरोप में बीजेपी विधायक विनय बिहारी के समेत 39 लोगों पर मामला दर्ज..

बेतिया: भीड़ को उकसाने और तोड़फोड़ करने के आरोप में बीजेपी विधायक विनय बिहारी के समेत 39 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। मामला पूर्वी चंपारण के सटहा गांव की है। जहां ट्रक चालक के द्वारा नियंत्रण खोने की वजह से एक युवक को धक्का लग गया था जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। युवक की मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने विधायक विनय बिहारी की अगुवाई में घटनास्थल पर पहुंचकर हंगामा किया। भीड़ ने बेतिया के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के चेक पोस्ट के पास तोड़फोड़ करते हुए ट्रक को आग के हवाले कर दिया गया था। इसी को लेकर बीजेपी विधायक सहित इन 49लोगों पर FIR किया गया है।
भीड़ को उकसाने और तोड़फोड़ करने के आरोप में बीजेपी विधायक विनय बिहारी के समेत 39 लोगों पर मामला दर्ज.. 1
इस मामले में बेतिया मुफस्सिल थाना के अध्यक्ष रमेश चंद्र उपाध्याय का कहना है कि पुलिस के बयान पर सभी के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। घटना के वक्त क्षेत्र में जमादार रामकुमार राम पेट्रोलिंग कर रहे थे और उनके बयान के आधार पर मामला दर्ज कराई गई है। 

जमादार ने अपने बयान में कहा है कि जिस ट्रक से युवक की मौत हुई थी उसे थाने लाया जा रहा था पर विनय बिहारी और उनके समर्थकों ने ट्रक को वही रोक लिया और जमकर हंगामा मचाने लगे। फिर देखते ही देखते आक्रोशित लोगों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया और जमकर हंगामा मचाना शुरु कर दिया। जिसके विनय बिहारी वहां से फरार हो गए। इस मामले में पहाड़पुर के 9 संत घाट बेतिया के 10 पुरानी गुदरी के 19 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
भीड़ को उकसाने और तोड़फोड़ करने के आरोप में बीजेपी विधायक विनय बिहारी के समेत 39 लोगों पर मामला दर्ज.. 2
इस मामले में जब पूर्व मंत्री विनय बिहारी से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि पुलिस अपनी नाकामी को छुपाने के लिए ऐसा कर रही है। हम जनता के सेवक हैं और हमारे द्वारा इस तरह का काम नहीं किया जा सकता। हकीकत तो यह है कि जब ग्रामीणों के द्वारा ट्रक को रोककर हंगामा किया जा रहा था तभी वहां पर एक जामादार मौजूद था। जिसे देखते हुए हमने ही थाने को फोन कर अतिरिक्त फोर्स बल उपलब्ध कराने की जानकारी दी थी। यह आरोप और FIR पुलिस अपनी नाकामी को छुपाने के लिए दर्ज की है।

Leave a Comment