in

जाने कब बनी बेतिया में रेलमार्ग और कब से शुरू हुई चम्पारण में रेलगाड़ी..

जाने कब बनी बेतिया में रेलमार्ग और कब से शुरू हुई चम्पारण में रेलगाड़ी.. 1


बेतिया: पश्चिम चंपारण में रेलमार्ग की शुरुआत सन 1888 में हुई थी जब बेतिया को मुजफ्फरपुर से जोड़ा जा रहा था, इसके बाद में रेलमार्ग को नेपाल सीमा के पास भिखना ठोढी तक बढाया गया। ताकि वहाँ पर्यटकों जाने में सुविधा हो सके,



वहीं एक दूसरा रेलमार्ग नरकटियागंज से चलकर रक्सौल होते हुए बैरगनिया तक जाने के लिए बनाई गयी। हम आपको ये भी बता दें के पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत आनेवाले इस रेलखंड की जिले में कुल लंबाई 220 किलोमीटर है। इसके बाद चम्पारण के गंडक नदी पर छितौनी में पुल बन जाने के बाद चम्पारण के रेलमार्गो में काफी फायदा हुआ, यहाँ का मुख्य रेलमार्ग गोरखपुर होते हुए राजधानी दिल्ली, सहित देश के महत्वपूर्ण शहरों, महानगरों से जुड़ गया। 

पश्चिमी चम्पारण जिले का प्रमुख रेलवे स्टेशन बेतिया, रक्सौल तथा नरकटियागंज है।
जहाँ से प्रतिदिन हजारो यात्री रेलगाड़ी द्वारा सफर करते हैं।।

बेतिया रेल समय की टाईम-सूचि देखें..

जाने कब बनी बेतिया में रेलमार्ग और कब से शुरू हुई चम्पारण में रेलगाड़ी.. 2
जाने कब बनी बेतिया में रेलमार्ग और कब से शुरू हुई चम्पारण में रेलगाड़ी.. 3


What do you think?

Written by Md Ali

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

दहेज़ के लोभियों ने छीनी कितने घरों की खुशियां

एक तरफ जहाँ बेतिया पुलिस का काम काबिले-तारीफ हैं वहीं दूसरी तरफ..