सिनेमा हॉल में रही चौकसी, पद्मावत देखने उमड़ी भीड़

पश्चिमी चंपारण: महीनों से विवाद में चल रहे हिंदी फिल्म पद्मावत आखिरकार गुरुवार को सूबे के कई सिनेमाघरों पर चला। इसको लेकर बगहा शहर के घ्रुव टाकिज में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। सुबह से ही मुख्य द्वार पर पुलिस कर्मियों को देख आने-जाने वाले लोगों को लग रहा था कि कोई बात हुई है इस लिए सिनेमा घर के आस-पास पुलिस का पहरा है।

सिनेमा हॉल में रही चौकसी, पद्मावत देखने उमड़ी भीड़ 1

 जैसे ही दस बजा कि एक-एक कर फिल्म देखने के लिए लोगों की भीड़ जमने लगी थी। फिल्म को समय से दिखाने के लिए सिनेमा मालिक सुजीत कुमार व रितेश कुमार अपने लोगों के साथ सिनेमा घर में ही जमे रहे। दोनों भाईयों ने बताया कि इस फिल्म को चलाने के लिए पिछले एक सप्ताह से तैयारी चल रही थी। पूरे शहर में गुरूवार से फिल्म को चलाने के लिए प्रचार प्रसार व पोस्टर बैनर लगा दिया गया था। पहले दिन जिन लोगों ने भी इस फिल्म को देखा सभी ने उसकी प्रसंशा किया। इधर सुरक्षा को लेकर एसपी अर¨वद कुमार गुप्ता ने बगहा पुलिस निरीक्षक रामबाबू कापर, पठखौली ओपी प्रभारी सुभाष मुखिया के साथ दर्जनों की संख्या में पुलिस कर्मियों की टीम तैनात किया था। वही मजिस्ट्रेट के रूप में बगहा दो बीडीओ अशोक कुमार व कृष्णकुमार यादवेन्द्र भी मौजूद रहे। यहां बता दे कि पदमावत सिनेमा को लेकर देश में लगातार विरोध किया जा रहा था। जिसके बाद उक्त फिल्म को लेकर सुप्रीम कोर्ट में वाद भी दायर किया गया था। जिसकी सुनवाई के बाद कोर्ट ने गुरूवार से सभी सिनेमा घरों में इसके संचालन का आदेश जारी किया था। शहर के ध्रुव टाकिज के संचालक सुजीत कुमार व रितेश कुमार ने बताया कि पहले ही दिन चार शो में सिनेमा चला। जितने भी दर्शकों ने इस फिल्म को देखा सभी ने सराहना किया और कहा कि बेवजह इस फिल्म को बदनाम किया जा रहा है। कही भी अश्लीलता नही है। इस फिल्म को परिवार के साथ बैठकर देखने की जरूरत है।

स्रोत- दैनिक जागरण

Leave a Comment