in ,

सरस्वती पूजा में अश्लील, अमर्यादित व असामाजिक गाना बजाने पर होगी कार्रवाई

बेतिया:  सरस्वती पूजा के अवसर पर व्यवस्था बनाये रखने के लिए डीएम निलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि पूजा पंडालो पर विशेष निगरानी रखने की आवश्यकता है। वें समाहरणालय  में सरस्वती पुजा के लिए विधि व्यवस्था की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे।

सरस्वती पूजा में अश्लील, अमर्यादित व असामाजिक गाना बजाने पर होगी कार्रवाई 1

उन्होंने ये भी कहा कि पूजा समितियों को सरस्वती पूजा पंडाल निर्माण के लिए लाइसेंस लेना  अनिवार्य होगा। उन्होंने पूजा पंडालों और मूर्ति विसर्जन मार्गों पर सतत निगरानी रखने का निर्देश दिया है। डीएम ने कहा कि सरस्वती पूजा के अवसर पर पूजा पंडालों सार्वजनिक जगहों पर पुलिस बलों की तैनाती की जायेगी।
उन्होंने कहा कि डीजे एवं अन्य यंत्र के लिए भी लाइसेंस लेना अनिवार्य होगा। लाउडस्पीकर द्वारा अश्लील एवं अमार्यादित गानों पर पूर्णत: रोक रहेगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि लाउडस्पीकर पर विशेष नजर रखने की जरूरत है ताकि कोई भी अश्लील एवं अमार्यादित गानों को नहीं बजा सके।
आपको बता दे कि कि सरस्वती पूजा 22 जनवरी को मनाया जायेगा। डीएम सर ने ये भी कहा कि पूजा पंडालों में मूर्ति को ज्यादा अवधि तक नहीं रखना है कैसे भी इसे 24 जनवरी तक विसर्जित कर देना है। इस बैठक में बेतिया एसपी जयंत कांत बगहा एसपी अरविंद कुमार गुप्ता, डीडीसी योगेंद्र सिंह, एडीएम मो़ अंसार अहमद सभी एसडीओ एसडीपीओ, जिलास्तरीय पदाधिकारी, सभी बीडीओ सीओ थानाध्यक्ष आदि उपस्थित थे.

बैठक को संबोधित करते हुए बेतिया एवं बगहा एसपी ने सरस्वती पूजा के अवसर पर सभी थानाध्यक्षों को अपने-अपने एरिया में शांतिपूर्वक त्योहार संपन्न कराने का निर्देश दिया है। एसपी द्वारा संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर कार्रवाई करने तथा असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखने का भी निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि सरस्वती पूजा के पूर्व पुलिस थानों के द्वारा फ्लैग मार्च भी  किया जाना चाहिए।

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नाबालिग बेटी की इज्जत बचाने गए पिता की चाकू गोदकर हत्या

शायद आप बेतिया की इस बेटी से बेखबर हो, जो अख़बार बेचकर पालती हैं पूरा परिवार..