वार्ड दर्शन: जाम, गड्डे, नालो से परेशान हैं वार्ड नम्बर5 के नागरिक।

वार्ड दर्शन: जाम, गड्डे, नालो से परेशान हैं वार्ड नम्बर5 के नागरिक। 1


बेतिया: वार्ड नम्बर5 से ही हम शुरुआत करते हैं,
                      सच कहूँ तो इस वार्ड्स से हर बेतियावासियों को खास लगाव हैं।
शायद लोग समझे नहीं पर ये वार्ड्नम्बर5 छावनी हैं।
अब छावनी का नाम आया तो सबसे पहले दिमाग में आती हैं, भयानक जाम, छावनी ओवरब्रिज, इत्यादि..
                            छावनी यानि के वार्ड नम्बर5 बेतिया/पश्चिमी चम्पारण में जाम के लिए मशहूर हैं। और लोगो के बारे में तो सालों से लिखते ही आते हैं और बात यहाँ वार्ड्स की हैं तो हम बस छावनी के लोगो यानि वार्ड नम्बर5 के लोगो की ही बस बाते करेंगे।
                         इस वार्ड के लोगो का ऐसा हाल हैं के अगर सुई/सब्ज़ी/इत्यादि खरीदने के लिए किसी वाहन से जाने के बारे में जल्दी सोचते भी नहीं, पैदल ही जाते हैं। यहाँ की जिसका कारण यहाँ की आबादी नहीं बल्कि बेतिया से जुड़ने वाली रास्तों से आने वाले मरीज/व्यवसायी/विद्धार्थी तथा रोजगार के तलाश में आने वाले मजदूर, भी इस समस्या से भली-भाँति परिचित हैं।
यहाँ के जाम का ये आलम हैं के जाम लगने के वजह से आसपास के दुकानवाले भी परेशान हैं। क्यूंकि इस वजह से ग्राहक भी वहाँ ज्यादा रुकना नही चाहते। शायद ही कोई ऐसा दिन होता हैं जब छावनी में जाम ना लगता हो।
और इस जाम के वजह से ना जाने कितनी सारी जिंदगियाँ बेवजह चली गयी। और इसका सबसे बड़ा कारण छावनी में ओवरब्रिज ना बन पाना हैं।

वार्ड दर्शन: जाम, गड्डे, नालो से परेशान हैं वार्ड नम्बर5 के नागरिक। 2


जिसके लिए काफी संगठनो जैसे:-
समाजिक विकाश संगठन, समाजिक सेवा दल, इत्यादियों ने सालो से पुतला दहन, आन्दोलन से लेकर अमरण भूखहडताल भी किया और ट्रेन भी रोकी पर इसका निष्कर्स नहीं निकला।।
           जिसका श्रेय बेतिया विधायक और सांसद को जाता हैं.. छावनी मुद्दे पर बेतिया में हमेशा राजनीतिक पार्टीयों में गर्मागर्मी रही हैं, काफी बार एकदुसरे पर बयानबाजी भी हुई हैं, पर समस्या टस से मस नहीं हुई, बेतिया की वार्ड नम्बर 5 यानि छावनी एक ऐसी चौराहा हैं। जहाँ से बगहा, नरकटियागंज, चनपटिया, लौरिया, वाल्मिकीनगर, इत्यादि जैसे दर्जनों जगहों, घनी आबादी वाले जगहों के लोगो का आगमन रहता हैं। 
ये ध्यान देनी वाली बात हैं के पिछले दिसम्बर से लेकर आज मार्च तक छावनी जाम के वजह से 5 लोगो की मौत हो चुकी हैं।
                   इस जाम का खास प्रभाव स्कूली बच्चों और प्रखंड़ो से आने वाली महिलाओ पर ज्यादा पड़ता हैं।
            शायद मेरा ज्यादा हो रहा हैं। खैर आते हैं वार्ड नम्बर5 पर..
                       यहाँ की एक और समस्यां ये भी हैं के आमना उर्दू हाई स्कुल के सामने की नालो का पानी हमेशा रास्तों पर आ जाती हैं, जिससे आने जाने वाले लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता हैं, बेतिया के राज देवड़ी से आने वाली यहीं रास्ता हैं जिसमे जगह-जगह से सड़के टूटी हैं और कही गड्डे हैं जो के इस वार्ड की मुख्य समस्याओं में से एक हैं।।
                 
वार्ड पार्षद:: इस वार्ड के वर्तमान पार्षद राजेन्द्र यादव जी हैं।

निवासियों की नजर में:: और इनके काम से वार्ड नम्बर5 के ज्यादातर वासी संतुष्ट हैं। 

मुख्य समस्या:: छावनी की अधिक्तर निवासियों की समस्या बस छावनी जाम और छावनी ब्रिज ही हैं।

वार्ड नम्बर5 की जानकारी
आबादी : 4470,
बीपीएल : 470,
एपीएल : 718
स्कुल : 2
आंगनबाड़ी : 2
हैंडपम्प : 6

Leave a Comment