in

बेतिया में प्रतिमा विसर्जन 30 को रात 10 बजे तक करने का निर्देश। आदेश ना पालन करने पर होगी कड़ी कार्यवाई

दुर्गा पूजा को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए असामाजिक व साम्प्रदायिकता भड़काने वाले तत्वों पर प्रशासन की कड़ी नजर है।

बेतिया में प्रतिमा विसर्जन 30 को रात 10 बजे तक करने का निर्देश। आदेश ना पालन करने पर होगी कड़ी कार्यवाई 1

डीएम डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे, पुलिस अधीक्षक बेतिया विनय कुमार एवं पुलिस अधीक्षक, बगहा, अनिल कुमार गुप्ता द्वारा संयुक्त रूप से दुर्गा पूजा त्योहार को पूर्ण शांतिपूर्ण संपन्न कराने को पदाधिकारियों, कर्मियों को सोमवार को निर्देश जारी किया गया है। 1 अक्टूबर को मोहर्रम का त्योहार मनाया जायेगा। इस कारण 30 सितम्बर को 10 बजे रात्रि तक सभी दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन कराने का निर्देश दिया गया है। बगैर लाइसेंस के दुर्गा प्रतिमा का नहीं निकलेगा विसर्जन जुलूस: अगर बिना लाइसेंस के कोई पूजा समिति दुर्गा प्रतिमा विसर्जन जुलूस निकालता है तो उस पर कठोर कानूनी कार्रवाई की जायेगी। दुर्गा पूजा के अवसर पर यदि कोई व्यक्ति धर्म, जाति, भाषा आदि के आधार पर नफरत फैलाने की कोशिश करते हुए पाया जाता है

या दूसरे वर्ग के धर्म को अपमानित करने के उद्देश्य से धार्मिक स्थल को नुकसान करता है तो कठोर कार्रवाई होगी।

संवेदनशील स्थलों पर हुई दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति 
दुर्गापूजा के अवसर पर विधि व्यवस्था बनाये रखने के लिए  पूरे जिले के सभी संवेदनशील स्थलों पर पुलिस पदाधिकारी पुलिस बल एवं दंडाधिकारी एवं भारी संख्या में सशस्त्र गश्ती दल की प्रतिनियुक्ति कर दी गयी है. प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बलों को 26 सितंबर  को अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर निश्चित रूप से पहुंच कर अपने कर्तव्यों का निवर्हन करने का निर्देश दिया गया है.

बिना लाइसेंस नहीं निकलेगा जुलूस : अगर बिना लाईसेंस के कोई पूजा समिति दुर्गा प्रतिमा विसर्जन जुलूस निकालता है, तो उस पर कठोर कानूनी कार्रवाई की जायेगी. दुर्गा पूजा के अवसर पर यदि कोई व्यक्ति धर्म, जाति, भाषा आदि के आधार पर नफरत फैलाने की कोशिश करते हुए पाया जाता है या किसी दूसरे वर्ग के धर्म को अपमानित करने के उदेश्य से धार्मिक स्थल को नुकसान अथवा अपवित्र करता है या करने की कोशिश करता है, उनके धर्म अथवा धार्मिक मान्यता को ठेस पहुंचाने के उदेश्य से दुर्भावना से ग्रसित होकर कोई कार्य करता पाया जायेगा, तो उनके विरूद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

जिला मुख्यालय में खुला  नियंत्रण कक्ष : दुर्गा पूजा के अवसर पर जिलास्तर पर समाहरणालय में जिला नियंत्रण कक्ष बनाया गया है. इस नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या-06254242534 है. यह नियंत्रण कक्ष 27 सितम्बर  से 1 अक्टूबर  तक लगातार कार्यरत रहेगा. जिलास्तरीय नियंत्रण कक्ष के प्रभार में प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी, बाल गोपाल शर्मा एवं वरीय प्रभारी के रूप में मो़ मोतिउर्र रहमान, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, सर्वशिक्षा अभियान, को प्रतिनियुक्त किया गया है.

अस्पतालों को किया गया अलर्ट 
डीएम ने सिविल सर्जन को 27  सितम्बर से 1 अक्टूबर तक तक सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखने का आदेश दिया है. उन्होंने इस दौरान  सभी अस्पतालों में एम्बुलेंस, जीवन रक्षक दवा, उपकरण, पारा मेडिकल स्टॉफ को पूरी मुस्तैदी से तैयार रखने का निर्देश दिया है. चिकित्सा से जुड़े सभी कर्मियों चिकित्सकों का अवकाश उपरोक्त अवधि में रद्द कर दी गयी है. अग्निशमन पदाधिकारी को निदेश दिया गया है कि जितने भी अग्निशमन वाहन हैं. उसको तैयारी हालत में रखें ताकि जरूरत पड़ने पर तत्काल इसका उपयोग किया जा सके. कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमंडल, बेतिया एवं कार्यपालक अभियंता, परियोजना प्रमंडल, बेतिया जिले में बन रहे सभी पंडालों में विद्युत व्यवस्था की सूक्ष्मता से जांच करने का आदेश दिया गया है.  वहीं सभी कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद नगर पंचायत को दुर्गा पूजा के अवसर पर अभियान चलाकर शहर की साफ-सफाई कराने का  आदेश दिया है.

What do you think?

Written by Md Ali

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बहुत ही दिलचस्प हैं माँ काली मंदिर का इतिहास!! जाने क्यूँ महत्पूर्ण हैं बेतिया का ये मंदिर.. जरुर पढ़े

ससुराल पहुंचा नशेड़ी पति, बाथरूम में ले जाकर पत्नी का रेत दिया गला