नाबालिग बेटी की इज्जत बचाने गए पिता की चाकू गोदकर हत्या

बेतिया: नाबालिग बेटी की इज्जत बचाने गए पिता की चाकू गोदकर हत्या कर दी गई। जिससे आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। ग्रामीणों ने शव के साथ थाने पर जाकर बवाल भी किया। आक्रोशित लोगों ने बेतिया-बगहा मुख्य पथ को जाम कर दिया। लोगो की मांग थी कि आरोपित को जल्द गिरफ्तार किया जाए और घटनास्थल पर एसपी को भी बुलाया जाए। इंस्पेक्टर अमानुल्लाह खान ने तीन दिनों के भीतर आरोपित की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। जिसके बाद लोग शांत हुए।

नाबालिग बेटी की इज्जत बचाने गए पिता की चाकू गोदकर हत्या 1

लोगों ने कहा कि शुक्रवार को गांव में एक नाबालिग लड़की अपने छोटे भाई को शौच कराने खेत ले गई थी। इसी दौरान जाकिर मियां नाबालिग को पकड़ कर गन्ने के खेत में ले जाने लगा। लड़की के शोर मचाने पर पिता उसकी इज्जत बचाने पहुंचे।
इसके बाद आरोपित ने लड़की को तो छोड़ दिया, लेकिन उसके पिता के गले को चाकू से गोद कर फरार हो गया। आसपास के लोगों ने जख्मी को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया, जहां  उसे पटना रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।
देर शाम शव जब गांव पहुंचा तो लोग आक्रोशित हो गए। सोमवार की सुबह लोग शव को ठेले पर रखकर मनुआपुल थाना गेट पर पहुंचे और जमकर प्रदर्शन किया। पुलिस प्रशासन के खिलाफ भी नारेबाजी की और रोड जाम कर दिया।
थानाध्यक्ष राजीव कुमार रजक ने बताया कि घटना को लेकर जाकिर मियां, सरकुल्लाह, इमरान, मुन्ना, मुस्लिम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। छेडख़ानी और हत्या की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। सभी आरोपित फरार हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Comment