तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक..

बेतिया: नगर परिषद के सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने कहा कि वे हर हाल मे शहर को स्मार्ट सीटी बनाने की चाहत रख रही है। 

तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक.. 1

इसके लिए कई कड़े कदम भी उठाएं है। स्वच्छ व साफ-सुथरा शहर के निर्माण मे कोई भी कोर कसर बाकी नहीं रखी जा रही है। विगत 27 दिसंबर को नप के निर्वाचित मंडल की बैठक में शहर में चिन्हित  सावर्जनिक  स्थलों पर शौचालय निर्माण का प्रस्ताव को मंजूरी दी गई थी। 

तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक.. 2
demo


इसके आलोक में स्वच्छता मिशन से जुड़े व नगर परिषद के कर्मियों व पदाधिकारियों के सहयोग से शहर में 13 स्थलों को चिन्हित  किया गया है। आगामी 23 जनवरी को होने वाली समान्य बैठक में इन शौचालयों के निर्माण पर अंतिम मुहर लगा दिए जाएंगे। 
अगर सब कुछ ठीक ठाक रहा तो शहर के 

तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक.. 3


किशुन बाग खलवा टोला ईसा मियां के घर के पास, वार्ड 27 मंगी राहत के घर के पास 
इमली चौक तथा घोड़ा अस्पताल के पास और एमजेके अस्पताल परिसर, एसपी कार्यालय, नगर परिषद कार्यालय, कंजर टोली चौक, मेयाज खां के घर के पास, लेदर फैक्ट्री दिनेश ओझा के घर के पास, दुर्गा बाग परिसर के अलावे संत घाट पानी टंकी के पास, न्यू बस स्टेंड यात्रा शेड के पास व एलआरडीसी कार्यालय के परिसर में बनाए जाएंगे ताकि शौचालय विहिन लोगों को खुले शौच से मुक्ति मिले सके।

सिटी पोर्टल पर डाली फर्जी रिपोर्ट

बीते साल में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के नाम पर हुए ‘खेल में 9.23 लाख काभुगतान कर दिया गया है। नप में महीनों से इसको लेकर उठा बावेला अभी शांत नहीं हुआ है। नप बोर्ड के निर्णय के तहत पटना की एक एजेंसी को मास्टर रॉल पर किए गए मनमाने भुगतान की पोल तब खुली जब कार्यपालक पदाधिकारी डॉ. विपिन कुमार जन कल्याण समिति नाम की उक्त एनजीओ की अवधि विस्तार की फाइल सभापति गरिमा सिकारिया के पास भेजी।

तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक.. 4
सभापति ने भुगतान वाले कागजात को नप बोर्ड में रखने का निर्देश देकर कइयों की सामत खड़ी कर दी है। नप बोर्ड की विगत बैठक में सशक्त समिति सदस्य छोटे सिंह व अन्य की आपत्ति के बाद उक्त कागजात को पहले सशक्त समिति में ही रखने का निर्देश दिया गया।


उसका भी अनुपालन अब तक नहीं किया गया है। इधर डोर टू डोर कचरा कलेक्शन में 175 अंक निर्धारित होने को ले केन्द्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 से पहले ही नगर के 22 वार्डों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन जारी होने की रिपोर्ट नप के सिटी पोर्टल पर अपलोड कर दी गई है।

तरक्की की राह पर एक और कदम बढ़ा बेतिया, शहर में बनेंगे सावर्जनिक.. 5
फर्जीवाड़े के विरोध में पार्षदों ने खोला मोर्चा: डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के नाम पर लाखों के भुगतान में फर्जीवाड़ा के साथ सिटी पोर्टल की रिपोर्ट पर भी कई पार्षदों ने मोर्चा खोल दिया है। सशक्त समिति सदस्य छोटे सिंह ऊर्फ संजय सिंह व नप के पूर्व उप सभापति व वार्ड 11 के पार्षद पति आनंद सिंह ने इसे डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के नाम पर दूसरा फर्जीवाड़ा करार दिया है।
इधर, नप के कार्यकारी कार्यपालक पदाधिकारी व सिटी मैनेजर मोजिबुल हसन ने कहा कि सिटी पोर्टल पर 22 वार्डों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की रिपोर्ट संबंधित वार्ड जमादारों के प्रतिवेदन के आधार पर डाली गई है। अगर, इसके विरुद्ध कोई शिकायत दर्ज होती है तो उसकी जांच के साथ जरूरी कार्रवाई भी होगी।

Leave a Comment