in

जिलापदाधिकारी और चीनी मिल कर्मियों ने बाढ़ पीड़ितों के मदद के लिए राहत कोष में दिया अपना वेतन

बेतिया: सूबे में आई प्रलयंकारी बाढ़ के कारण भारी तबाही मची हुई है। लोग खासे परेशान हैं। आपदा के इस घड़ी में उनके बीच राहत पहु्रचाने के लिए कई हाथ आगे आए हैं।

जिलापदाधिकारी और चीनी मिल कर्मियों ने बाढ़ पीड़ितों के मदद के लिए राहत कोष में दिया अपना वेतन 1

इसमें पश्चिम चम्पाण के जिला पदाधिकारी डा. निलेश रामचन्द्र देवरे ने अपने वेतन 50 हजार रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए हैं। वहीं मझौलिया चीनी मिल कर्मी बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आए हैं।

जिलापदाधिकारी और चीनी मिल कर्मियों ने बाढ़ पीड़ितों के मदद के लिए राहत कोष में दिया अपना वेतन 2

अपना एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया। सोमवार को मझौलिया चीनी मिल के निदेशक सी.एल.शुक्ला एवं महाप्रबंधक जेपी. त्रिपाठी ने जिलाधिकारी डा. निलेश रामचंद्र देवरे से उनके कार्यालय कक्ष में भेंटकर उन्हें 146256 रुपये पंजाब नेशनल बैंक का एक चेक सौंपा। निदेशक श्री शुक्ला ने बताया कि मझौलिया चीनी मिल में कार्यरत सभी पदाधिकारी एवं कर्मी ने बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष, बिहार में अपना एक-एक दिन का वेतन देने का निर्णय लिया। यह राशि मझौलिया चीनी मिल में कार्यरत कुल 150 कर्मियों के एक-एक दिन के वेतन का है, जिसमें 18 पदाधिकारी एवं बाकी 132 कर्मी शामिल हैं। उधर बासा के बेतिया यूनिट के अघ्यक्ष सह अपर समाहर्ता अंसार अहमद की अध्यक्षता में बासा की एक बैठक हुई, जिसमें सभी सदस्यों ने अपने एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का निर्णय लिया। मौके पर बासा के सचिव सह एसडीएम सुनील कुमार, जिला आपूर्ति पदाधिकारी संजय कुमार, एनडीसी कुमार सत्येन्द्र यादव आदि मौजूद रहे।

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नौ दिनों बाद चली ट्रेन, मुजफ्फरपुर से नरकटियागंज के बिच ट्रेनों का परिचालन शुरू

बेतिया के DSP आवास में सरेआम पुलिस पर हुई अनाधुन फायरिंग, गाडी पर लगा था JDU का झंडा