in

जाम से छुटकारा दिलाने के लिए बनेंगे नये प्लान, ये सारे नये नियम होंगे बेतिया में लागू

जाम से छुटकारा दिलाने के लिए बनेंगे नये प्लान, ये सारे नये नियम होंगे बेतिया में लागू 1

बेतिया: अपने शहर में कुछ सालों से जाम की समस्या काफी बढ़ गयी हैं, अब हालत उ हैं के कहीं जाने/काम के लिए समय से पहले घर से निकलना होता हैं। ताकि सही समय पर पहुँचा जा सके,
जाम का स्तर इस हद्द तक हो गया हैं के पहले तो मेजर/ख़ास जगहों पर जाम लगता था, पर अब बेतिया में जाम अब गलियों में भी भारी तरीकों से लग रहा हैं, कुछ तो ऐसे भी गलियाँ थी, जो ज्यादातर लोगों से अनजान थी..मतलब लोगो को पता नही होती थी के ये गली किस रास्ते से मिलेगी। या ये गली कहाँ तक जाएगी, ऐसी गलियाँ भी थी जो बस सुल्तान के सलमान खान जैसे लोग ही जानते थे उन सब गलियों को पर..आज बेतिया का जाम इस तरह हो गयी हैं के ज्यादातर गली भी जाम से मुक्त नही रह सकी। इससे निजात पाने के लिए यहाँ के प्रतिनिधि तो कुछ करते नही, पर प्रशासन काफी हद्द तक इसे सम्भालने में कामयाब होती आई हैं। नये साल में भी जनता को ध्यान में रखकर प्रशासन ने फिर से नया प्लान तैयार किया हैं, जिसके तहत बेतिया जाम को कंट्रोल किया जा सके,

जानिये इस नये प्लान के बारे में विस्तार से
● नये वर्ष में नगर के लाल बजार, मीना बजार, तीन लालटेन चौक, इत्यादि जगहों, जो के काफी व्यस्क रहते हैं, जैसे सड़को पर अवैध तरीके से पार्क किये वाहनों के खिलाफ प्रशासन कड़ी कार्यवाही करेगा, साथ इस इस सब के लिए नये नियम लागू करेगीं।
हॉस्पीटल रोड़ से हटेंगे अतिक्रमण : नये वर्ष पर प्रशासन ने खुदाबख्स चौक पर से लेकर हॉस्पीटल रोड़ से होते हुए कोतवाली चौक तक के बीच में लगने वाली हर तरीके अतिक्रमण हटाने का निर्णय लिया हैं। बता दें के ये रास्ता सारा हॉस्पीट्लो/जाँच घर/क्लिनिक्स/ दवाखाना/ इत्यादी से भरा हुआ हैं जहाँ हर रोज हज़ारों के संख्या में लोग अपना इलाज कराने आते हैं, पर कुछ दुकानदारों/ठेलेवालों/इत्यादी द्वारा रोड़ अपना व्यसाय लगाने के कारण बहुत मरीजों को जाम में फँस, इन्तेजार करना पड़ता हैं। जिससे मरीजों और उनके परिजनों को भारी कठीनाईयों का सामना करना पड़ता हैं।
● माँगे जाएंगे संगठनो से सुझाव: पश्चिमी चम्पारण डीएम श्री लोकेश कुमार जी ने कहा के नये ट्रैफिक नियम, जाम से मुक्ति, इत्यादि के लिए सुझाव हेतु लोग आमंत्रित हैं, विभिन्न समाजिक संगठनो, प्रबुद्ध नागरिकों के सुझाव को नये नियम बनाने में तरजिह दिया जाएगा।
सोवा बाबु चौक से लेकर संत कबीर चौक के किनारे नहीं लगेंगे ठेले: सोवा बाबु चौक से लेकर संत कबीर चौक तक ठेले लगना एक बहुत ही बडा कारण भी हैं बेतिया बजार में जाम लगने का, क्यूंकि इस रास्तों पर ठेले के वजह से जो जाम लगती हैं, वो मीना बजार, लाल बजार, राज देवड़ी, और टाउन हॉल की तरफ की भी रास्तों को प्रभावित करती हैं। इसलिए प्रशासन ने ये भी फैसला लिया के यहाँ ठेले नहीं लगायें जाएँगे।
अवैध रूप से खड़ी वाहनों पर होगी कड़ी कार्यवाई: सड़कों के बीचों बीच या बिना ढंग, इत्यादि पर भी प्रशासन सख्ती दिखाने वाली हैं। अपने शहर में ऐसे काफी लोग हैं जो अपने वाहनों को ऐसे तैसे सड़क पर रख देते हैं। जो कभी कभी जाम लगने का सबब बनता हैं, ऐसे में अब प्रशासन वाहनों को जब्त कर लेगी। और क़ानूनी कार्यवाही करेगी।
सड़क पर लगने वाली ठेले पर होंगे जब्त: अपने शहर में ये काफी ही आम बात हैं, जिस ठेले वाले का जहाँ मन किया वहाँ वो अपना ठेला लगा देता हैं। ये बिना सोचे के आने जाने वाले लोगों को कितनी परेशानी हो सकती हैं। पर अब प्रशासन इन जैसे ठेले वालों पर भी कड़ी नजर रखेगी। और जो भी इस तरह के ठेले को रखेगी, प्रशासन वैसे ठेले वालों को उठा ले जाएगी।
गुमटियों पर भी कार्यवाई: शहर के सडकों के किनारे अतिक्रमण कर छोटी मोटी गुमटियाँ लगा पान/चाट/इत्यादि चीजों बेचने वालों पर भी प्रशासन इस बार कड़ी कार्यवाई करेगी। बता दे के शहर के बहुत सारे ऐसे गुमटीयाँ हैं जो सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण कर जाम लगने में एक अहम किरदार निभा रहे हैं।
दुबारा अतिक्रमण करने वालों पर होगी क़ानूनी कार्यवाई: अगर प्रशासन किसी को अतिक्रमण से हटाती और वो फिर से सरकारी जगहों पर अतिक्रमण कर वहाँ अपना व्यासाय लगाता हैं तो प्रशासन उसके खिलाफ कठोर निर्णय कर..उसपर कानूनी कार्यवाई करेगी।

जाम से छुटकारा दिलाने के लिए बनेंगे नये प्लान, ये सारे नये नियम होंगे बेतिया में लागू 2


जाम से मुक्त होगा शहर : आरक्षी अधिक्षक विनय कुमार ने बताया के नये साल में बेतिया में लगने वाली जाम से भी निपटा जाएगा, इसके लिए एक विशेष प्लान बनाया जा रहा हैं, प्रायाप्त संख्या में ट्राफिक को नियन्त्रण करने के लिए मुहया कराया जाएगा। सभी चौक चौराहे पर लगे ट्रैफिक पुलिस पर नजर रखने के लिए एक विशेष व्यस्था की जा रही हैं।।
                                                   साथ ही हम आपको ये भी बताना चाहेंगे के इस प्लान के तहत 
० नगर के 18 चौक-चौराहे पर ट्रैफिक पुलिस की व्यवस्था रहेगी।
० नगर में 120 पुलिस किये जाएंगे विभिन्न चौक-चौराहें पर तैनात।
० नगर के आधे दर्जन मुख्य मार्गों पर रहेगी, वन-वे की व्यवस्था।

What do you think?

Written by Md Ali

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बेतिया शहर आ सकता हैं देश के सर्वोच्च स्वच्छ शहरों के सूचि में..पढ़े कैसे??

मंडलकारा में बंद एक कैदी की मौत की अफवाह पर हंगामा !