in

जाने कबसे शुरू होगी बेतिया से ट्रेन.. गेंडा पकड़ने के लिए हाथी पर एक्सपर्ट्स निकले

बेतिया: नरकटियागंज-बगहा- बेतिया रेलखंड पर लगातार 5 वें दिन भी ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से ठप है। हालांकि रेल प्रशासन द्वारा ट्रैकों को दुरूस्त करने का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। 

जाने कबसे शुरू होगी बेतिया से ट्रेन.. गेंडा पकड़ने के लिए हाथी पर एक्सपर्ट्स निकले 1


समस्तीपुर रेल मंडल के डीआरएम आर के जैन ने बताया कि ट्रैकों की मरम्मती का काम जोर शोर से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रेलखंड पर परिचालन बहाल करने की योजना है। हालांकि ट्रैकों को दुरूस्त करने आदि में स्टेशनों व यार्ड में भारी जलजमाव से कार्य प्रभावित हो रहा है। उन्होंने बताया कि बाढ़ का पानी कम होने के बाद युद्धस्तर पर कार्य करा कर परिचालन को बहाल किया जायेगा।रविवार को आयी भीषण बाढ़ के कारण इस रेलखंड पर जगह जगह रेल ट्रैक बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये हैं। 

जाने कबसे शुरू होगी बेतिया से ट्रेन.. गेंडा पकड़ने के लिए हाथी पर एक्सपर्ट्स निकले 2


इससे ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से ठप हो गया है। रेलट्रेकों के क्षतिग्रस्त होने के कारण यहां से गुजरने वाली सभी सुपरफास्ट व एक्सप्रेस ट्रेनों का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया है तो कई एक्सप्रेस समेत पैसेंजर ट्रेनें रद्द कर दी गयी हैं। जंक्शन प्रबंधक लालबाबू राउत ने बताया कि 12538/37 मडुआडीह एक्सप्रेस, 15002/01 देहरादून एक्सप्रेस, 15273 सत्याग्रह एक्सप्रेस, 15212/11 जननायक एक्सप्रेस समेत कई अन्य ट्रेनों का रूट बदल दिया गया है तो कई अन्य एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेनों को अगले आदेश तक रद्द कर दिया गया है।

गैंडों को पकड़ने पहुंची हाथी के साथ एक्सपर्ट टीम

नेपाल के चितवन नेशनल पार्क से बाढ़ के पानी मे बहकर वाल्मीकि टाइगर रिजर्व मे पहुंचे गेंडो को पकड़ने के लिए तीन हाथी के साथ एक्सपर्ट टीम बगहा पहुंच गयी। गुरुवार से नरायणापुर बगहा मे ये तीनों हाथी वहां पहुंचने के बाद बगहा शहर के पास डेरा डाले गेंडा को पकड़ने के लिए विशेष ऑपरेशन शुरू कर दिया है । इस ऑपरेशन को लेकर वाल्मीकि टाइगर रिजर्व प्रशासन ने क्षेत्र के लोगों को सतर्कता बरतने का सलाह दिया है।यह अभियान करीब 5 बजे से हाथी एक्सपर्ट टीम ने शुरू किया। इस ऑपरेशन मे वीटीआर के तथा नेपाली वन प्रशासन के साथ सभी तैयारी पूरी कर लिया है। यह जानकारी देते हुए टाइगर रिजर्व वन प्रमण्डल दो के डीएफओ अमित कुमार ने बताया कि नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों मे हुई भारी बारिश तथा बाढ़ के पानी मे बहकर नेपाल के चितवन नेशनल पार्क से तीन चार गेंडे वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के रिहायशी क्षेत्रों मे पहुंचे है। सूचना मिलते ही वनकर्मियों कि टीम के साथ जांच कि गयी। जिसमें गेंडा होने का खुलासा हुआ है। डीएफओ ने बताया कि गेंडा के हर गतिविधि पर पांच दिनों से नजर रखी जा रही है। डीएफओ ने कहा कि पहले चरण मे यह विशेष टीम के साथ बगहा के नरायणापुर घाट से गेंडा पकड़ने का अभियान शुरू हुआ है। इस रिहायशी क्षेत्र मे गेंडा पांच दिनो से डेरा डाला है। डीएफओ ने कहा कि चूकि बगहा का यह क्षेत्र शहर से सटा है । इसलिए यहां डेरा डाले गेंडा को पकड़ने का काम शुरू किया गया है। यह ऑपरेशन तबतक चलेगा। जबतक गेंडा पकड़ मे न आ जाय। उन्होंने बताया कि बगहा से गेंडा पकड़ने के बाद हाथी एक्सपर्ट टीम वाल्मीकिनगर मे डेरा डाले गेंडे को पकड़ेगी। इस अभियान को सफल बनाने के लिए तीनों वन प्रमडंलो के डीएफओ गौरव ओझा, हेमंत पाटील, आईएफएस सह मदनपुर वन प्रक्षेत्र के प्रभारी रेंज अधिकारी अभिषेक कुमार सिंह, अमबरिश कुमार मल्ल, रेंज अफसर आनंद कुमार, अवधेश प्रसाद सिंह, आदि तीनो वन प्रमण्डलो से वनकर्मियो को लगाया गया है।

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चनपटिया में बीफ काटे जाने पर जमकर हुआ बवाल, आरोपियों को पकड़कर हुई धुनाई

बेतिया से पूर्वी चंपारण भेजी जा रही राहत सामग्री, जाती धर्म से ऊपर उठ कर लोग कर रहे है एक दूसरे की मदद, सीएम ने की जिला प्रशासन के राहत कार्यो की सराहना