in

चंपारण के लाल और NDTV न्यूज़ चैनल के शान रवीश कुमार के बारे में रोचक जानकारी

चंपारण: रविश कुमार का जन्म 5 दिसंबर 1974 को पुर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतीहारी में हुआ था।

चंपारण के लाल और NDTV न्यूज़ चैनल के शान रवीश कुमार के बारे में रोचक जानकारी 1

                                                            रविश जी की पहले की फ़ोटो
जो कि आज भारतीय टीवी एंकर, लेखक और पत्रकार के रूप में उभरे है। जो भारतीय राजनीति और समाज से संबंधित विषयों को शामिल करते है। वह एनडीटीवी इंडिया के एक वरिष्ठ कार्यकारी संपादक हैं।

चंपारण के लाल और NDTV न्यूज़ चैनल के शान रवीश कुमार के बारे में रोचक जानकारी 2

इनका जन्म तो मोतीहारी में हुआ लेकिन इनकी पढाई लोयला हाई स्कूल, पटना में हुई। फिर आगे की पढ़ाई के लिए ये दिल्ली चले गए वहा देशबंधु कॉलेज ( दिल्ली यूनिवर्सिटी) से ग्रेजुएट हुए उसके बाद उन्होंने IIMC से मास कम्युनिकेशन का कोर्स किया।

चंपारण के लाल और NDTV न्यूज़ चैनल के शान रवीश कुमार के बारे में रोचक जानकारी 3

रविश जी को बहुत से अवार्ड से सम्मानित भी किया गया है

रविश जी को हिन्दी पत्रकारिता और 2010 के लिए क्रिएटिव लिटरेचर के लिए प्रतिष्ठित #गणेश_शंकर_विद्यार्थी पुरस्कार मिला।  उन्हें वर्ष 2013 के पत्रकार के लिए #पत्रकारिता_पुरस्कार में #रामनाथ_गोयनका_उत्कृष्टता के साथ सम्मानित किया गया। द इंडियन एक्सप्रेस के 100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों में उन्हें शामिल  भी किया गया था।मुंबई प्रेस क्लब द्वारा उन्हें 2015 के सर्वश्रेष्ठ पत्रकार के रूप में सम्मानित किया गया। मार्च 2017 में, पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए रविश कुमार को प्रथम कुलदीप नायर पत्रकारिता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                                               41 वर्षीय रविश कुमार जी की विवाह नयना दासगुप्ता से हुई थी। इनकी दो बेटियां भी हैं।

चंपारण के लाल और NDTV न्यूज़ चैनल के शान रवीश कुमार के बारे में रोचक जानकारी 4

                             रविश कुमार जी की धर्मपत्नी नयना दासगुप्ता…।
रविश कुमार जी लेखक भी हैं उन्हीने कुछ किताबें भी लिखी है, जिनमें से  कुछ का नाम इश्क़ में शहर होना, देखते रहिये औऱ रवीशपंती  है ।

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बेतिया के DSP आवास में सरेआम पुलिस पर हुई अनाधुन फायरिंग, गाडी पर लगा था JDU का झंडा

दूसरी शादी के लिए मना करने पर पति ने बीमार पत्नी को नदी में फेका