in

गहने की लुट, लव एंगल में उलझा विनय मर्डर का रहस्य। लोगो में हैं जोरदार आक्रोश..पुलिस विफल

बेतिया: स्वर्ण कारीगर विनय सोनी मर्डर को लेकर भले ही शहर में उबाल है, लेकिन खुलासे के चौतरफा दबाव के बीच मुफस्सिल थाने की पुलिस की सुस्ती बरकरार है. विनय हत्याकांड में तफ्तीश की रफ्तार इस कदर है कि हत्या के तीन दिन बाद हत्यारों को पकड़ना तो दूर पुलिस इस हत्याकांड के सस्पेक्ट डब्लू का पता तक नहीं लगा सकी है.

गहने की लुट, लव एंगल में उलझा विनय मर्डर का रहस्य। लोगो में हैं जोरदार आक्रोश..पुलिस विफल 1

मसलन डब्लू कौन है? कहां रहता है? उसके पिता कौन है?… इन सवालों पर पुलिस निरूत्तर है. वह भी तब, जब मामले की जांच के लिए तेज तर्रार दारोगाओं की टीम गठित की गयी है. बावजूद अभी तक विनय हत्याकांड मामले में पुलिस की जांच-चौराहे पर हैं.

विनय सोनी मर्डर ने पुलिस की नींद उड़ा दी है. मर्डर के खुलासे को लेकर दबाव बढ़ता जा रहा है. उसकी हत्या क्यों, कैसे और किन कारणों को लेकर हुई? पुलिस इसको लेकर निरूत्तर है. लेकिन हत्या के पीछे जो वजहें चर्चा में आ रही है, वह चौंकाने वाली हैं.बेतिया : हाटसरैया के विनय सोनी की हत्या की गुत्थी चोरी के गहने व लव एंगल में उलझी दिख रही है.

 भले ही पुलिस के हाथ अभी तक कोई खास सुराग नहीं मिला है, लेकिन मौका-ए-वारदात के बाद उत्पन्न हुई परिस्थितियों व हो रही चर्चाओं में यह दोनों एंगल ही हत्या की वजह बनकर उभर रही हैं. सामान्य परिवार के विनय सोनी का ‘रईशी’ अंदाज जहां चोरी के गहने खरीदने में मर्डर की तरफ इशारा कर रहा है, वहीं दूसरे धर्म की युवती से प्रेम विवाह के बाद पैदा हुए हालात भी विनय की जान लेने पर अमादा होने की तसदीक कर रहे हैं. हालांकि हत्यारे के पकड़े जाने के बाद ही पूरा सच सामने आ सकता है.

गहने की लुट, लव एंगल में उलझा विनय मर्डर का रहस्य। लोगो में हैं जोरदार आक्रोश..पुलिस विफल 2

विनय हत्याकांड मामले की जांच कर रही पुलिस की प्रारंभिक जांच में भी यही दोनों एंगल हत्या की वजहों में सामने आ रहा है. पुलिस के पास प्रथम दृष्टया जो मामला सामने आया था. वह चोरी के गहनों की खरीदारी से था

पुलिस जांच की थ्योरी पर यकीन करे तो पेशे से स्वर्ण कारीगर विनय चोरी के गहने खरीदता था. जिसमें डब्लू और जाहिद नाम के युवक उसका सहयोग करते थे. डब्लू और जाहिद चोरी के गहनों को जुटाते थे और विनय इसकी खरीदारी करता था. हत्यावाले दिन भी चोरी के गहने की ही बात सामने आ रही है. परिजनों की ओर से पुलिस को दिये गये आवेदन में भी डब्लू द्वारा विनय को बुलाकर ले जाने की बात लिखी गई है, लेकिन गहने खरीदने का कोई जिक्र नहीं किया गया है. हालांकि सूत्रों की माने तो डब्लू ने चोरी के गहने जुटाये थे और विनय को साथ ले गया था. इसके बाद अगले दिन विनय की लाश मिली. हत्या की दूसरी वजह जो सामने आ रही है.

वह लव एंगल से संबंधित है. पुलिस सूत्रों की माने तो विश्व हिन्दू परिषद का कार्यकर्ता रहे विनय सोनी ने कुछ माह पहले ही दूसरे धर्म की युवती का धर्मांतरण कराकर उससे प्रेम विवाह किया था. इसके बाद भी परस्थितियां प्रतिकूल पैदा हो गयी थी. पंचायती तक हुई थी. तनातनी की भी बात सामने आ रही है. बरहाल, हत्या के तीन दिन बाद भी पुलिस खाली हाथ है. हालांकि उसका दावा है कि जल्द ही इसका खुलासा हो जायेगा. बीते शुक्रवार को हाटसरैया के रहने वाले विनय सोनी की लाश सनसरैया में मिली थी. उसके सिर में गोली मारी गई है. लाश को जलाने का प्रयास किया गया था.

गहने की लुट, लव एंगल में उलझा विनय मर्डर का रहस्य। लोगो में हैं जोरदार आक्रोश..पुलिस विफल 3

हत्या के मामले में पुलिसिया सुस्ती बरकरार रही है. हत्यारों को गिरफ्तार करने की बात तो दूर पुलिस ने केस दर्ज करने में ही 48 घंटे लगा दी. अब परिजनों की ओर से आवेदन मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी है, लेकिन हत्या के तीन दिन बाद भी पुलिस मामले में खाक छान रही है.


पुलिस अभी तक हत्या की असली वजह तक पता नहीं लगा पाई है. ऐसे में हत्यारों तक पहुंचना चुनौती बनी हुई है. दूसरी, तरफ हत्या का खुलासा नहीं होने से लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है.

What do you think?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्यार और धोखाः सिपाही का दूसरी पत्नी को अपनाने से इंकार..पुलिस भी नहीं ले रही एक्शन

भारतीय इंजीनियरिंग सेवा में बैरिया के लाल ने लहराया परचम, पूरे भारत में 55वां रैंक