अगर सब ठीक रहा तो जल्द ही, अपने जिले में बनेगा एयरपोर्ट..शुरू होगी एयरलाइन्स

अगर सब ठीक रहा तो जल्द ही, अपने जिले में बनेगा एयरपोर्ट..शुरू होगी एयरलाइन्स 1


बगहा: आकाश में उड़ रहे हवाई जहाज अब पश्चिमी चंपारण वासियों के लिए कौतूहल का विषय नहीं बनेंगे। अगले कुछ दिनों में पटना से सीधे वाल्मीकिनगर के लिए हवाई यात्रा शुरू होगी। फिर बड़े शहरों की भांति आकाश में हवाई जहाज उड़ते दिखेंगे। वाल्मीकिनगर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सपनों का स्थल बनाने की कवायद के बीच यहां के हवाई अड्डा को विकसित करने का निर्णय लिया गया है। वाल्मीकिनगर विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह की पहल पर हवाईअड्डे के विस्तार और विकास की कवायद शुरू हो गई है। हवाई अड्डे पर लाउंज समेत पार्किंग एवं अन्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए बिहार राज्य भवन निर्माण निगम ने निविदा भी जारी कर दी है। इस काम पर करीब 43 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

अगर सब ठीक रहा तो जल्द ही, अपने जिले में बनेगा एयरपोर्ट..शुरू होगी एयरलाइन्स 2

हवाई यात्रा शुरू करने की मुहिम की यह पहली कड़ी मानी जा रही है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गत जनवरी महीने में वाल्मीकिनगर का दौरा कर यहां पर्यटन की संभावनाओं की समीक्षा की थी। वर्षो से पर्यटकों को लुभाने के लिए चल रही सरकार की मुहिम पटना से लंबी और थकाऊ यात्रा की वजह से रंग लाती नहीं दिख रही थी। अब हवाई यात्रा शुरू होने के बाद न सिर्फ पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा बल्कि स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी बनेंगे। मुख्यमंत्री के आदेश पर जल्द ही सिचाई विभाग के गेस्ट हाउस को भी अपडेट किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने जनवरी में किया था वाल्मीकिनगर का दौरा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गत जनवरी महीने में वाल्मीकिनगर पहुंचे थे। उन्होंने जटाशंकर मंदिर, झूला पुल समेत वाल्मीकिनगर के अन्य रमणीक स्थलों का जायजा लिया था। इस दौरान सीएम जंगल सफारी पर भी निकले थे और बाघों के अधिवास क्षेत्र को भी देखा था। उन्होंने गंडक में नौका विहार भी किया था। वाल्मीकिनगर में पर्यटन की संभावनाओं की समीक्षा के सीएम ने बाद पाया कि यहां पर्यटकों के ठहरने और यातायात की सुविधा का विस्तार करने की आवश्यकता है। दूसरी ओर विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह ने भी मुख्यमंत्री से हवाई यात्रा शुरू करने की मांग की थी। उन्होंने जनवरी महीने में ही वन एवं पर्यावरण मंत्रालय को पत्र लिखकर इसकी आवश्यकता जताई थी। अब हवाईअड्डा को विकसित करने की कवायद शुरू होने के बाद यह पहल रंग लाती दिख रही है।

वाल्मीकिनगर में पर्यटक पहुंचने लगेंगे तो स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। हवाईअड्डा को डेवलप करने का काम शुरू हो चुका है। हवाईयात्रा शुरू होने के बाद निश्चित रूप से पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।धीरेंद्र प्रताप सिंहविधायक, वाल्मीकिनगर

Leave a Comment