मंडलकारा में बंद एक कैदी की मौत की अफवाह पर हंगामा !

मंडलकारा में बंद एक कैदी की मौत की अफवाह पर हंगामा ! 1


बेतिया : मंडलकारा में बंद एक विचाराधीन कैदी की मौत की अफवाह पर बुधवार को बंदियों ने जमकर हंगामा किया. हालांकि, कैदी की मौत नहीं हुई थी. अधिक ठंड लगने की वजह से वह बेसुध हो गया था. इसको लेकर जेल में हंगामा मच गया. कैदी की मौत की आशंका में साथी कैदियों ने जेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. हंगामा देख जेल अधीक्षक ने कैदी को आनन-फानन में एमजेके सदर अस्पताल में भरती कराया, जहां उसका इलाज जारी है. इधर, हंगामा कर रहे कैदियों को जेल प्रशासन ने समझा कर शांत कराया. इसको लेकर जेल में 
कैदी की मौत

घंटों अफरा-तफरी का माहौल रहा..

घटना के संबंध में बताया जाता है कि जेल के बैरक नंबर आठ का कैदी सतीश कुमार गुप्ता बुधवार सुबह जेल परिसर में बैठा था. करीब 11 बजे अचानक सतीश जमीन पर गिर पड़ा और बेसुध हो गया. इसे देख साथ के कैदियों ने इसकी सूचना जेल प्रशासन को दी. मरणासन्न स्थिति में कैदी सतीश को जेल अधीक्षक रमेश प्रसाद ने एंबुलेंस से एमजेके सदर हॉस्पिटल भरती कराया. इधर, इतनी ही देर में सतीश की मौत की अफवाह जेल में फैल गयी. कैदियों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया. जेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. जेल में हंगामा की खबर मिलते ही जेल अधीक्षक कारा पहुंचे और कैदियों को सतीश के जीवित होने की जानकारी दी. इसके बाद गुस्साये कैदी माने और हंगामा खत्म किया. 

पत्नी की हत्या में बंद है सतीश
कैदी इस बात से भी नाराज थे कि ठंड में उनके लिए बेहतर इंतजाम नहीं किये गये हैं. जेल अधीक्षक रमेश कुमार ने बताया कि विचाराधीन कैदी सतीश शिकारपुर थाना के नरकटियागंज शिवगंज का रहनेवाला है. पत्नी की दहेज हत्या के आरोप में वह तीन साल से जेल में बंद है. उसे ठंड लगी थी. इधर, एमजेके अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि सतीश को कैदी वार्ड में भरती किया गया है. उसकी तबियत अब बेहतर है.
एमजेके अस्पताल में भरती कैदी.
ठंड लगने से बेहोश हो गया था सतीश कुमार
जेल अधीक्षक ने एमजेके अस्पताल में कराया भरती 
शिकारपुर के नरकटियागंज शिवगंज का रहनेवाला है सतीश

Leave a Comment